Monday, 17 September, 2007

कितना चौकस है आपका मोबाइल?

इसे आप आसानी से चेक कर सकते हैं। पहले अपने मोबाइल पर *#06# लिखें। इससे आपके मोबाइल का आईएमईआई (international mobile equipment identity) नंबर उसकी स्क्रीन पर आ जाएगा। अब देखें कि इस नंबर का 7वां और 8वां अंक क्या है। इसी से पता चलेगा कि आपका मोबाइल सेट कितना दुरुस्त है।

1. अगर ये अंक 02 या 20 हैं तो आपका मोबाइल संयुक्त अरब अमीरात में असेम्बल किया गया है और यह बेहद घटिया क्वालिटी का है।

2. अगर ये अंक 08 या 80 हैं तो आपका मोबाइल जर्मनी में बनाया गया है और इसकी क्वालिटी ठीकठाक है।

3. अगर ये अंक 01 या 10 हैं तो आपका मोबाइल फिनलैंड में बनाया गया है और इसकी क्वालिटी काफी अच्छी है।

4. अगर 7वां और 8वां अंक 00 हैं तो आपका मोबाइल मूल फैक्टरी में बनाया गया है और इसकी क्वालिटी सर्वोत्तम है।

5. और, अगर ये अंक 13 का बनता है तो समझ लीजिए इसे अज़रबैजान में असेम्बल किया गया है और इसकी क्वालिटी बेहद घटिया है और यह आपके स्वास्थ्य के लिए भी खतरनाक है।

मेरे मोबाइल का 7वां और 8वां अंक 01 है। इसलिए मैं तो निश्चिंत हो गया हूं। अब चेक करने की बारी है आपकी। दो मिनट लगा डालिए। मैंने भी एक साथी का मेल मिलने के बाद इस पर पांच मिनट जाया किए हैं।

7 comments:

rajivtaneja said...

अपुन तो बच गये...अपना नम्बर 00 है...
जानकारी के लिये शुक्रिया

Udan Tashtari said...

अनिल भाई

फिनलैंड का नाम देख कर लग रहा है कि आप सिर्फ नोकिया इन्स्ट्रूमेन्ट की बात कर रहे हैं. तनिक क्लियर करियेगा.

Udan Tashtari said...

हालाँकि IME देखने का तरीका का तरीका सभी में वो ही है और मेरे में ०१ आ रहा है पर फोन है Soni Erricssion.

अनिल रघुराज said...

समीर भाई ये नोकिया ही नहीं, सभी मोबाइल सेट के लिए है। जैसे मेरा भी मोबाइल एलजी का है।

अभय तिवारी said...

358018001509710..बाप रे बाप.. इतना लम्बा नम्बर.. कुछ ग़लती तो नहीं है.. वैसे इसके हिसाबसे तो ०० आ रहा है.. तो खुश हो जाऊँ..?
वैसे सच तो यह है कि दिन में दो तीन बार इसे फेंक देने या पटक कर तोड़ देने का मन करता रहता है..

yunus said...

अपने एक मित्र ने ईमेल पर संदेस भेजा था ये वाला ।
हमने तुरंत घर के सारे मोबाईलों की कुंडली जांच मारी ।
सबके सब ओरीजनल ही हैं ।
ओम शांति

Priyankar said...

अहा! बच गये . ०० आया है . न आया होता तो कौन सा बदलने वाले थे . दो-चार दिन कुढते रहते बस .