Thursday 26 July 2007

हच की हद, दूर रहें

रविवार की बात है। मेरा मोबाइल फोन बजा। मैंने उठाया तो उधर से रिकॉर्डेड आवाज़ बोलने लगी। पांच-दस सेकंड बाद समझ में आया कि ये हच की तरफ से कॉलर ट्यून्स का कोई ऑफर है। मुझे पांच गाने सुनाए गए और कहा गया कि इनमें से जो भी आपको पसंद हो, उसका नंबर दबा दें। मैं थोड़ा हिचका। सोचा कि जिस तरह कॉलर ट्यून्स के एसएमएस रोज़ डिलीट करता हूं, वैसा ही रवैया यहां भी अपनाऊं। फिर मुझे लगा कि जब हच से सीधे फोन आ रहा है तो शायद ये मुफ्त का ऑफर हो। मैंने अपने मनपसंद गाने के लिए तीन नंबर दबा दिया। फौरन उधर से जवाब आया - आपके मोबाइल पर 48 घंटे के अंदर ये कॉलर ट्यून एक्टिव हो जाएगी और इसका मंथली चार्ज है 30 रुपए। मुझे सदमा-सा लगा।
मैंने हचकेयर के नंबर 111 पर फोन किया। वहां मेरी सेवा में हाज़िर हुए कोई जगदीश टक्कर साहब। जनाब, क्या टक्कर दी टक्कर साहब ने। मैंने उन्हें अपनी परेशानी बताई तो उन्होंने कहा - इसमें क्या बात है। आप can ct लिखकर 123 पर एसएमएस कर दें, ये सेवा कैंसल हो जाएगी। इस एसएमएस के तीन रुपए लगेंगे, लेकिन क्योंकि आपने इस सेवा को चुन लिया है, इसलिए इसके 30 रुपए मंथली चार्जेज तो लगेंगे ही। मैंने कहा कि ये तो धोखा है। बिना बताए मुझे झांसा दिया गया। लेकिन जगदीश टक्कर साहब ने कहा - इसमें हम आपकी कोई सहायता नहीं कर सकते।
मैंने टक्कर के सामने दूसरी समस्या रखी कि मैंने हच के बिल का चेक अपने घर के नजदीकी रेलवे स्टेशन के कॉमन ड्रॉप बॉक्स में तीन दिन पहले ही डाल दिया है, लेकिन अभी तक हच के मैसेज आ रहे हैं कि आपका बिल ड्यू है। टक्कर ने पूछा कि क्या आपने चेक का नंबर 4044 पर एसएमएस किया। मैंने कहा - मैंने तो आज तक कभी ऐसा नहीं किया है, न ही किसी से मुझे इसके बारे में बताया। बोले - जनाब हर ड्रॉप बॉक्स पर ये लिखा रहता है। मैंने कहा कि गलती तो आप के सिस्टम की है कि तीन दिन बाद भी मेरा चेक आपको नहीं मिला। वो बोले - नहीं जनाब, गलती आपकी है क्योंकि आपने एसएमएस नहीं किया। हमारे पास तो एक दिन में कलेक्शन बॉक्स से चेक आ जाता है, बशर्तें आपने चेक डाला हो। मैंने कहा - इसका मतलब आप कह रहे हैं कि मैंने चेक नहीं डाला। बोले - आप दूसरा चेक जमा करके उनका नंबर 4044 पर एसएमएस कीजिए। हां, हम आप पर लेट पेमेंट नहीं लगाएंगे। टक्कर साहब ने पूछा, और कोई सेवा। मैंने कहा, नहीं। अगली सुबह मैंने रेलवे स्टेशन के ड्रॉप बॉक्स का गौर से मुआइना किया। वहां कहीं भी 4044 पर मैसेज भेजने की बात नहीं लिखी थी।

9 comments:

आलोक said...

क्या नम्बर दबाने का आह्वान करने के पहले दाम बताया था रिकॉर्डेड आवाज़ ने?

आलोक said...

क्या 4044 पर समोसा भेजने के भी पैसे लगते हैं?

अनिल रघुराज said...

आलोक जी, यही तो दिक्कत है कि नंबर दबाने का आह्वान करने से पहले रिकॉर्डेड आवाज ने दाम का कोई जिक्र तक नहीं किया था।

Sanjeet Tripathi said...

हमे तो मिल के लूट लिया इन मोबाईल वालों ने, अच्छी अच्छी धुनों ने, अच्छे अच्छे प्लानों ने!

अरे भैया, का हच, अउर का आईडिया अउर का हमरा बी एस एन एल, सबै लूटन में लगे है ऐसईच!

Anonymous said...

मैं तो खुद इस मा0 चो0 कम्पनी से परेशान हूँ और इन से जल्द से जल्द मुक्ती के लिए आतुर हूँ भले ही मुझे नुकसान भी क्यों न हो जाए।

पहले तो मैंने इस रिंग टोन बेचने वाले नम्बर को "ignore this hutch call" नाम से सेव कर रखा है। जब भी इधर से फ़ोन आता है तो पहचान कर एक दम काट देता हूँ।

अगर आप सोच रहें हैं कि इनकी "do not distrub" सेवा में अपना नम्बर दर्ज करने से आपको लाभ होगा - तो बिलकुल भूल जाइए। मित्रों यह है हच उर्फ़ लुटेरे व धोकेबाज़। उल्टा ऐसी कॉल व समोसों के उल्टा बड़ने की उम्मीद रखें।

मैं और भी तरह से पीड़ित हूँ इस हच क0 से मगर समय के आभाव के कारण यह कथा मैं किसी और दिन पूरी करूँगा जो मेरे दिल में एक कड़वे अहसास कि तरह है।

Udan Tashtari said...

इतने काम्पटिशन के जमाने में ऐसी लूट, बड़ा अजब मामला है. अनिल भाई, कोई उपभोक्ता फोरम में या जनहित याचिका का माध्यम नहीं होता क्या, जब इतने लोग परेशान हैं??

Sagar Chand Nahar said...

क्या हच क्या एयरटेल और क्या टाटा। सबके सब बेईमान है। एयरटेल तो जबरन कुछ सुविधायें देती है और पैसे काट लेती है। अगर आपको वह सुविधा नहीं चाहिये तो आपको एस एम एस कर वह सुविधा बन्द करवानी होती है अन्यथा आपके पैसे कटते रहते हैं।
अब देखिये ग्राहकों को टाटा किस तरह परेशान करता है

Sagar Chand Nahar said...

यह लीजिये आईडिया वालों की परेशानी

ग़रिमा said...

ओ ओ मै भी इस तरह से परेशानी मे हूँ.. कोई सुझाव हो तो बतायें...