Thursday 31 July 2008

याद आ गया द ग्रेट डिक्टेटर का वो सीन

आज अखबारों में छोटी-सी खबर छपी थी कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल से मिले। प्रधानमंत्री ने राष्ट्रपति को सार्क सम्मेलन के लिए अपनी आगामी कोलंबो यात्रा के बारे में जानकारी दी। राष्ट्रपति भवन की प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक इसके साथ ही उन्होंने बेंगलुरू और अहमदाबाद में हुए आतंकवादी हमलों के मद्देनज़र राष्ट्रीय सुरक्षा के मसले पर तफ्सील से चर्चा की। लेकिन प्रतिभा ताई और मनमोहन सिंह की जो छवि मेरे दिमाग में बनी है, उससे मुझे बरबस चार्ली चैपलिन की फिल्म द ग्रेट डिक्टेटर का वो सीन याद आ गया जिसमें हिटलर मुसोलिनी से मिलता है। इस सीन को देखकर आप भी अंदाज़ा लगाइए कि हमारी प्रतिभा ताई और डॉक्टर साहब के बीच असल में कैसी और क्या बात हुई होगी।

1 comment:

siddharth said...

ग़जब, ग़जब, गज़ब...मजा आ गया। संदर्भ और प्रसंग दोनो शानदार। आपने आज का दिन अच्छा कर दिया। वाह!