Thursday 1 April 2010

वादा पूरा, अर्थकाम शुरू

बस, इतनी सी सूचना देनी है कि आगे और ज्यादा व्यस्त हो रहा हूं क्योंकि वायदे के मुताबिक आज आधी रात के कुछ घंटे बाद वित्तीय साक्षरता से जुडी़ वेबसाइट अर्थकाम मैंने शुरू कर दी। अभी पिछले ही हफ्ते कॉरपोरेट मामलात मंत्रालय ने भी निवेशकों को समझदार बनाने के लिए हिंदी में वेबसाइट शुरू की है। अच्छा है हर तरफ से कोशिशें हो रही हैं। रंग यकीनन निखरेगा। अभी नहीं तो साल-दो साल बाद सही।
अर्थकाम को देखिए, पढिए और बताइए कि अभी कितने काम की बन पाई है यह साइट...
बस इतना ही....

8 comments:

Udan Tashtari said...

जरुर देखते हैं. आपको शुभकामनाएँ इस नये प्रयास में.

अनूप शुक्ल said...

साइट देखी। सुन्दर और मनभावव है। भाषा भी प्रवाहयुक्त! बहुत बहुत बधाई!

अनुनाद सिंह said...

बधाई हो ! अर्थकाम हर दृष्टि से हिन्दी के लिये शुभ हो।

संजय भास्कर said...

बधाई हो ! अर्थकाम हर दृष्टि से हिन्दी के लिये शुभ हो।

दीपा पाठक said...

बहुत काम की साइट है। शुभकामनाएं।

Priyankar said...

हम जैसे अत्यंत औसत आर्थिक/वित्तीय समझ वाले लोगों के लिए बेहद सहज-सरल भाषा में बहुत ज़ुरूरी वेब साइट .आभार भी और भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी.

आभा said...

आप को बहुत बहुत शुभ कामनाएँ..आभार सहित..

प्रवेश गौरी 'नमन' said...

आपके सफल ब्लॉग के लिए साधुवाद!
हिंदी भाषा-विद एवं साहित्य-साधकों का ब्लॉग में स्वागत है.....
कृपया अपनी राय दर्ज कीजिए.....
टिपण्णी/सदस्यता के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें....
http://pgnaman.blogspot.com
हरियाणवी बोली के साहित्य-साधक अपनी टिपण्णी/सदस्यता के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें....
http://haryanaaurharyanavi.blogspot.com